वृश्चिक

‘वार्षिक भविष्य – 2020’

—- डाॅ. अजय भाम्बी

वृश्चिक:

कीवर्ड:
राशि चिन्ह: बिच्छु
राशि तत्व: जल
राशि स्वामी: मंगल

जनवरी से मार्च के मध्य आपकी राशि से द्वितीय भाव अर्थात धनु राशि में बृहस्पति, शनि, केतु, बुध और सूर्य की युति रहेगी। 24 जनवरी को शनि आपके तृतीय भाव यानि मकर राशि में प्रवेश कर जायेंगे। ग्रहों की यह युति द्वितीय भाव में होने से धन संबंधी समस्याओं से निजात मिलेगी। किसी नये कार्य का शुभारम्भ करने जा रहे हैं तो आपको सफलता प्राप्त होगी और इसमें लोगों से भी मदद मिलेगी। परिवार में बेहतरीन सामंजस्य देखने को मिलेगा। परिवार में कोई मांगलिक कार्य भी संपंन होगा। सभी महत्वपूर्ण योजनाओं को क्रियान्वित करने के लिए समय अति उत्तम है।

अप्रेल से जून के मध्य बृहस्पति तीव्र गति से चलता हुआ मकर राशि में प्रवेश कर वहां स्थित शनि के साथ युति बनायेगा। आपके संपर्क क्षेत्र का विस्तार होगा। महत्वपूर्ण लोगों से भेंट-मुलाकात होगी। यात्रा से पर्याप्त लाभ होगा। आपके व्यक्तित्व में निखार आयेगा। खेलकूद संबंधी प्रतिस्पर्धा में विजय मिलेगी।

जुलाई से 20 नवम्बर के मध्य बृहस्पति वक्रगति से चलता हुआ धनु राशि यानि आपकी राशि से द्वितीय भाव में आ जायेगा। फिर से एक नया माहौल बनेगा। किसी भी कार्यवश रूके हुए कार्यों में दोबारा गति आयेगी। मुश्किलों से राहत मिलेगी। व्यापारिक गतिविधियां बढ़ेंगी। कोई नया कार्य भी प्रारम्भ हो सकता है। बच्चों का प्रदर्शन अपने – अपने क्षेत्र में सराहनीय रहेगा।

वर्ष के अंतिम चरण में बृहस्पति फिर से मकर राशि में प्रवेश करेगा। यह समय भी गतिशीलता का है। आपकी मान प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी। विदेश गमन के लिए प्रयत्नशील जातकों के लिए भी यह समय शुभ समाचार देगा। पारिवारिक वातावरण खुशहाली लिए रहेगा एवं परिवार में उत्सव का सा माहौल देखने को मिलेगा।