सिंह

‘वार्षिक भविष्य – 2019’

—- डाॅ. अजय भाम्बी

सिंह:

कीवर्ड:
राशि चिन्ह: शेर
राशि तत्व: अग्नि
राशि स्वामी: सूर्य

जनवरी और मार्च के मध्य आपको मिले-जुले परिणाम प्राप्त होंगे। बृहस्पति आपकी राशि चतुर्थ भाव में रहेगा और राहू द्वादश स्थान में विचरण करेगा। अन्य ग्रहों की स्थिति कुंडली से अच्छी है। रोजमर्रा के कार्यों को सम्पन्न करने मे ंतो अधिक परेशानी नहीं होगी और अगर शाॅर्ट टर्म योजनाएं बनाकर कार्य करेंगे तो उसमें भी आपको सहूलियत प्राप्त होगी। लेकिन बृहत योजनाओं को अमल में लाने में मुश्किलों का सामना करना पड़ेगा। वर्तमान नौकरी, व्यवसाय में भी दिक्कतें पेश आ सकती हैं। धन संबंधी मामलों में विशेष सावधानी बरतने की आवश्यकता है। इमोशनल इस्यूज भी बीच-बीच में तनाव पैदा कर सकते हैं, धैर्य से काम लें।

अप्रेल का महीना विशेष रूप से अच्छा रहेगा। 29 मार्च को बृहस्पति आपकी राशि से पंचम स्थान में आ गया है लेकिन वो महीने के उत्तरार्ध में पुनः वृश्चिक राशि में आ जायेगा। 23 मार्च को राहू एकादश और केतु पंचम भाव में प्रवेश कर गये हैं और वहां डेढ़ वर्ष रहेंगे। यह समय आपके लिए शुभ रहेगा। अप्रेल में रूके कार्य बनेंगे। यदि परीक्षा, प्रतियोगिता या नौकरी, व्यवसाय के लिए प्रयत्नशील हैं तो उसमें आपको सफलता प्राप्त होगी। पारिवारिक सुख में वृद्धि होगी एवं परिवार में कोई मंगल कार्य भी सम्पन्न हो सकता है।

मई से अक्टूबर तक का समय कुल मिलाकर आपके पक्ष में रहेगा। हालांकि इस दौरान बृहस्पति की स्थिति राशि से चतुर्थ भाव में बहुत अच्छी नहीं है लेकिन राहू की उपस्थिति एकादश में और शनि की पंचम में सराहनीय है। मई – जून – जुलाई के महीने विशेष रूप से अच्छे रहेंगे। यदि इस दौरान किसी प्लान या प्रोजेक्ट पर कार्य करेंगे तो उसमें आपको सफलता प्राप्त होगी। आपके उत्साह में वृद्धि होगी और बड़े मनोयोग से कार्यों को सम्पन्न करने में मन भी रमेगा। वर्तमान नौकरी, व्यवसाय में आगे बढ़ने के अवसर प्राप्त होंगे। अगर रोजगार की तलाश में हैं तो इस दिशा में भी आपको सफलता प्राप्त होगी। पारिवारिक वातावरण भी उत्साहवर्धक बना रहेगा। धन की दृष्टि से यह समय काफी माकूल सिद्ध होगा।

अगस्त – सितम्बर के महीने थोड़े कमजोर रहेंगे। कार्यों के बनने में विघ्न बाधाओं का सामना करना पड़ेगा। किसी बात या स्थिति को लेकर परिजनों में मनमुटाव भी देखने को मिल सकता है। इसके अलावा किसी परिजन का स्वास्थ्य भी चिन्ता का विषय हो सकता है।

नवम्बर – दिसम्बर के महीने अत्यन्त शुभदायी रहेंगे। बृहस्पति 5 नवम्बर को धनु राशि में प्रवेश कर जायेगा जहां यह शनि और केतु के साथ युति भी बनाएगा। अगर क्रिएटिव कार्यों से जुड़े हैं तो आप अपनी टेलैन्ट के बल पर अपना सिक्का जमाने में पूरी तरह से सफल रहेंगे। किसी दीर्घ कालीन योजना पर विचार कर रहे हैं तो उसे भी अमल में लाया जा सकता है। लम्बे समय से चलता हुआ प्रेम संबंध विवाह में परिणित हो सकता है। अगर विवाह की दहलीज पर खड़े हैं तो विवाह होने का योग भी बन रहा है। पारिवारिक सुख में वृद्धि होगी। संतान पक्ष की ओर से सुख प्राप्त होगा। यदि विदेश में नौकरी, व्यवसाय या शिक्षा के लिए जाने के इच्छुक हैं तो इस दिशा में आपको सफलता मिलेगी। आर्थिक स्थिति में मजबूती आयेगी और आय का कोई नया स्रोत भी प्राप्त हो सकता है।

परिवारः

पारिवारिक दृष्टि से कुल मिलाकर समय काफी अच्छा है। बच्चों का प्रदर्शन अपने-अपने क्षेत्र में अच्छा रहेगा। परिवार में कोई शुभ कार्य भी सम्पन्न हो सकता है। मई – जून – जुलाई के महीने थोड़े नेगेटिव हैं। इन दिनों में परिजनों के मध्य मतभेद ऊभर सकते हैं और किसी परिजन के स्वास्थ्य को लेकर चिन्ता भी व्याप्त हो सकती है।

धन सम्पत्तिः

इस वर्ष आपको आय में वृद्धि करने के काफी सुवसर प्राप्त होंगे। यदि अपनी योजनाओं को ठीक से व्यवहार में ला सकेंगे तो निसंदेह आपको लाभ होगा। जमीन-जायदाद, वाहन आदि खरीदने का योग भी बना हुआ है। अप्रेल, नवम्बर – दिसम्बर के महीने विशेष रूप से शुभ हैं। फरवरी और जुलाई के महीने नेगेटिव हैं अतः समय को साथ में लेकर चलेंगे तो स्थितियां आपके पक्ष में बनी रहेंगे।

कार्यक्षेत्रः

कार्यक्षेत्र की दृष्टि से यह वर्ष विशेष रूप से अच्छा है। जो लोग लेखन, साहित्य, कला, संगीत, सिनेमा, फैशन या खेल जगत से जुड़े हुए हैं वे अपनी प्रतिभा के बल पर आगे बढ़ने में सफलत रहेंगे। वर्तमान पदभार में वृद्धि भी हो सकती है और कोई नया पदभार भी प्राप्त हो सकता है। स्वयं की सूझबूझ से लिए गये निर्णय दूरगामी परिणाम देने वाले सिद्ध होंगे।

सेहतः

सेहत के लिहाज से यह वर्ष काफी अच्छा है। जो लोग क्रोनिक पेशैन्ट हैं उन्हें भी काफी राहत प्राप्त होगी। सेहत के लिए हमारा मानना है कि अधिकतर सेहत गिफ्ट में मिलती है लेकिन गिफ्ट का सम्मान भी करना चाहिए यानि अपने आचार-विचार, खान-पान, योग-व्यायाम, साधना से बचना नहीं चाहिए बल्कि लम्बी उम्र के लिए इनका पालन भी करना चाहिए। सेहत की दृष्टि से मार्च, मई और अगस्त के महीने नाजुक हैं अतः इन दिनों में अपने तथा परिवार के स्वास्थ्य के प्रति सावधान रहें।

ज्योतिषीय उपायः

आपकी राशि का स्वामी सूर्य है। अगर सूर्य नमस्कार और सूर्य को जल देने का नियम बना लें तो ये जीवन भर का उपाय हो सकता है। 11 मुखी और 13 मुखी रूद्राक्ष पहनना आपके लिए विशेष हितकर रहेगा। राशि की दृष्टि से पुखराज, माणिक और मूंगा बेझिझक धारण कर सकते हैं।

क्या करेंः

आपका आत्मबल उच्च कोटि का है। अगर आप आत्मबल के साथ युक्ति और प्रत्येक सिचूएशन को साध सकें तो जीवन बहुत सहज हो सकता है।

क्या न करेंः

अहम आपकी समस्या है। इसे सबसे बेहतर आप समझते हैं। इस पर ध्यान देने की आवश्यकता है।