तुला

‘वार्षिक भविष्य – 2019’

—- डाॅ. अजय भाम्बी

तुला:

कीवर्ड:
राशि चिन्ह: तराजू
राशि तत्व: वायु
राशि स्वामी: शुक्र

जनवरी से मार्च के मध्य ग्रह स्थिति आपके अनुकूल रहेगी। बृहस्पति द्वितीय भाव में चल रहा है, शनि तृतीय में और राहू दशम भाव में। प्रोफेशनल स्तर पर सुखद स्थितियां निर्मित होंगी। वर्तमान जोब, बिजनेस में प्रोग्रेस के संकेत बन रहे हैं। यदि परीक्षा, प्रतियोगिता या अन्य माध्यम से नौकरी, रोजगार की तलाश में हैं तो इस दौरान कार्य भी सिद्ध होगा। आर्थिक स्थिति में सुदृढ़ता आयेगी। धन का आगमन सुलभ हो जायेगा। रूके हुए धन के मिलने की भी संभावना है। यदि बैंक, वित्त संस्थान या सरकार से लोन आदि लेने की तलाश में हैं तो आपको सफलता प्राप्त होगी। जो लोग सामाजिक या राजनैतिक क्षेत्र से जुड़े हैं उनके लिए समय उत्तम है। कार्य से संबंधित यात्राओं का सिलसिला बना रहेगा और इन यात्राओं से पर्याप्त मात्रा में लाभ भी होगा। समय का सदुपयोग करना आपके हितकर रहेगा।

अप्रेल के महीने में भी स्थितियां आपके पक्ष में बनी रहेंगी। बृहस्पति 29 मार्च को तृतीय स्थान में प्रवेश कर चुका है लेकिन पुनः 23 अप्रेल को आपकी राशि से द्वितीय स्थान में आ जायेगा। राहू भी आपकी राशि से नवम स्थान में 23 मार्च को आ चुका है। प्रोफेशनली आपको अपनी कार्यप्रणाली में थोड़ा परिवर्तन लाने की आवश्यकता महसूस होगी। यदि सिचूएशन को समझकर उसके अनुसार कार्य करेंगे तो किसी विशेष असुविधा का सामना भी नहीं करना पड़ेगा। अचानक यात्रा हो सकती है और यह यात्रा आपके लिए लाभदायक रहेगी।

मई से अक्टूबर तक का समय कुल मिलाकर अच्छा व्यतीत होगा। यदि परीक्षा, प्रतियोगिता या इंटरव्यू आदि में इस दौरान हिस्सा लेंगे तो आपको अच्छी सफलता मिलेगी। राजनीति और सामाजिक कार्य से जुड़े व्यक्तियों के लिए उत्तम समय चल रहा है। पारिवारिक दृष्टि से ये समय काफी अच्छा है और परिवार में कोई मंगल कार्य भी सम्पन्न हो सकता है। संतान पक्ष की ओर से सुख प्राप्त होगा। आर्थिक दृष्टि से यह समय काफी सुखद रहेगा। अगर धन संबंधी किसी योजना में प्रवेश करने का मन बना रहे हैं तो उसमें आपको सफलता प्राप्त होगी। जमीन-जायदाद, फ्लैट, वाहन आदि के खरीदने का योग भी चल रहा है।

सितम्बर – अक्टूबर के महीने थोड़े नरम हैं अतः समय की नजाकत को समझते हुए ही अपनी योजनाओं को आगे बढ़ाना चाहिए। पूंजी निवेश संबंधी योजनाओं पर किसी के भरोसे में आकर या बिना सोचे-समझे प्रवेश नहीं करना चाहिए। कंफ्यूजन की स्थिति में मित्र-शुभचिंतकों से परामर्श भी कर सकते हैं। जो यात्रा भी अत्यन्त आवश्यक है उसे ही करें।

नवम्बर – दिसम्बर के महीने भी अच्छे व्यतीत होंगे। बृहस्पति 5 नवम्बर को धनु राशि में प्रवेश कर जायेगा जहां इसकी मुलाकात शनि और केतु से होगी। कम्युनिकेशन को बढ़ाया जा सकता है और नये संपर्क भी इस दौरान बनेंगे और उनसे आपको व्यापक लाभ होगा। आपकी सामाजिक मान प्रतिष्ठा में भी बढ़ोतरी होगी। जो लोग रचनात्मक कार्यों जैसे – संगीत, सिनेमा, लेखन, साहित्य, कला, फैशन, डांसिंग या खेल जगत में अपना भविष्य बनाने की इच्छा रखते हैं तो उन्हें अपने मन्तव्य में अच्छी सफलता प्राप्त होगी। अगर विदेश में रोजी-रोजगार या उच्च शिक्षा के लिए प्रयत्नशील हैं तो इस दिशा में भी आपको सफलता प्राप्त होगी। पारिवारिक सुख में वृद्धि रहेगी और आपसी अंडरस्टेंडिंग में भी इजाफा होगा।

परिवारः

परिवार की दृष्टि से यह वर्ष उत्तम हैं। परिजनों में आत्मीयता का माहौल देखने को मिलेगा। परिवार में उत्सव होने की भी पूर्ण संभावना है। आप परिजनों के साथ रमणीक या धार्मिक स्थानों की यात्रा पर भी जाएंगे। अच्छे समय में अगर आपसी संबंधों में घनिष्ठता पैदा की जाये तो समय भी मदद करता है।

धन सम्पत्तिः

धन सम्पत्ति की दृष्टि से यह एक उत्तम वर्ष है। सारे महत्वपूर्ण ग्रह – शनि, बृहस्पति, राहू, केतु वर्ष पर्यन्त अच्छे ही रहेंगे। आर्थिक स्थिति में मजबूती आयेगी और आय का अतिरिक्त स्रोत भी प्राप्त हो सकता है। किसी ऐसी महत्वाकांक्षी योजना में प्रवेश कर सकते हैं जिसके लिए आप पिछले काफी समय से प्रयत्नशील हैं।

कार्यक्षेत्रः

कार्य क्षेत्र की दृष्टि से यह वर्ष एक ऐसा माहौल निर्मित करेगा जिसकी आपको लम्बे समय से तलाश थी। वर्तमान नौकरी, व्यवसाय में वृद्धि के संकेत दिख रहे हैं। आपकी प्लानिंग और योजनाओं को अधिकारी और सहयोगी दोनों ही पसन्द करेंगे। कोई नया पदभार भी प्राप्त हो सकता है। कम्पीटीशन में आप अव्वल रहेंगे।

सेहतः

यह वर्ष सेहत के लिए बहुत बढ़िया है। अगर आप किसी दीर्घ रोग से पीड़ित हैं तब भी आपको इस वर्ष काफी राहत प्राप्त होगी। फिर भी अन्यत्र हमने कुछ महीनों का जिक्र किया हुआ है जो नाजुक हैं अतः उन दिनों में विशेष ध्यान रखें। स्वास्थ्य के बारे में हमारी मान्यता है कि अच्छी सेहत भी कमानी पड़ती है अपने प्रयत्नों से।

ज्योतिषीय उपायः

एक 10 मुखी, 11 मुखी या 14 मुखी रूद्राक्ष पहनने से इस वर्ष के भाग्य में इजाफा किया जा सकता है। आप नीलम, पन्ना और हीरा इत्मीनान से धारण कर सकते हैं।

क्या करेंः

आपके तुला साइन का अर्थ होता है संतुलन या बैलेंस। यह वर्ष जीवन में लम्बे समय तक बैलेंस बनाने के लिए अच्छे अवसर प्रदान करेगा। इनका इस्तेमाल करना ना भूलें।

क्या न करेंः

जोखिम उठाने से हानि हो सकती है। स्टाॅक एक्सचेंज या अन्य रिस्की वेंचर्स से इस वर्ष दूर रहना आपके लिए लाभकारी रहेगा।