कर्क

‘वार्षिक भविष्य – 2019’

—- डाॅ. अजय भाम्बी

कर्कः

कीवर्ड:
राशि चिन्ह: केकड़ा
राशि तत्व: जल
राशि स्वामी: चन्द्रमा

जनवरी से मार्च के मध्य का समय हर तरीके से उत्तम है। इसका एक महत्वपूर्ण कारण यह भी है कि अतिचारी बृहस्पति आपकी राशि से पंचम स्थान में संक्रमण कर रहा है। 29 मार्च तक यह तीव्र गति से इसी राशि में रहेगा। बाकी ग्रह भी अच्छे हैं जिसके फलस्वरूप आप बहुत सारी योजनाओं पर एक साथ काम करने का मन बनायेंगे। जो लोग आलरेडी क्रिएटिव कार्यों से जुड़े हुए हैं उन्हें अपनी प्रतिभा का समुचित फल भी प्राप्त होगा। अगर आपका रूझान लेखन, साहित्य, कला, संगीत, सिनेमा, फैशन, स्पोर्टस आदि में है तो आपको बहुत अच्छे फल प्राप्त होंगे। वर्तमान नौकरी, व्यवसाय में अच्छी तरक्की के आसार बन रहे हैं। जो लोग परीक्षा, प्रतियोगिता या किसी कम्पीटीटिव एक्टिविटी में हिस्सा लेने के इच्छुक हैं तो उन्हें भी अच्छी सफलता प्राप्त हो सकती है। अगर कोई प्रेम प्रसंग चल रहा है तो उसे अमलीजामा पहनाया जा सकता है। कुछ लोगों के लिए कोई नया प्रेम भी प्रारम्भ हो सकता है।

अप्रेल का महीना थोड़ा नरम है और उसका मूल कारण यह है कि बृहस्पति 29 मार्च को आपकी राशि से छटे भाव में प्रवेश कर गया है। हालांकि यह यहां पर ज्यादा समय नहीं रहेगा लेकिन सावधानी की आवश्यकता है। नयी योजना में तब तक प्रवेश नहीं करना चाहिए जब तक आप पूरी तरह से उसके बारे में आश्वस्त न हों। पूंजी निवेश संबंधी प्लान भी हाल फिलहाल स्थगित रखना ही ठीक रहेगा।

मई से अक्टूबर तक का समय आपके लिए काफी ठीक है। बृहस्पति 23 अप्रेल को पुनः आपके पंचम भाव में आ चुका है और यहीं रहने वाला भी है। किसी महत्वाकांक्षी योजना में प्रवेश हो सकता है। यदि विदेश में नौकरी, व्यवसाय या एजूकेशन के लिए जाने का मन बना रहे हैं तो अपने प्रयासों में कमीं न आने दें आपको सफलता प्राप्त होगी। पारिवारिक वातावरण उत्साहवर्धक रहेगा एवं परिवार में कोई मंगल कार्य भी सम्पन्न हो सकता है। भाग्य का भी भरपूर सहयोग बना रहेगा। किसी नये प्रेम प्रसंग के प्रारम्भ होने की संभावना से भी इंकार नहीं किया जा सकता। इस दौरान यदि कोई मामला कोर्ट-कचहरी में चल रहा है और उसका फैसला इस समय आता है तो उसका फैसला आपके पक्ष में रहेगा।

नवम्बर – दिसम्बर के महीने थोड़े कमजोर हैं। बृहस्पति 5 नवम्बर को छटे भाव में प्रवेश कर जायेगा। राहू भी द्वादश भाव में है। इस दौरान पूंजी निवेश संबंधी योजनाओं पर आंख मूंदकर फैसला लेने से हानि हो सकती है इस बात का भी अवश्य ध्यान रखें। नौकरी, व्यवसाय आदि के क्षेत्र में भी स्थितियां थोड़ी सी नाजुक हो सकती हैं। कार्य स्थल पर अधिकारी या कलीग्स के साथ मतभेद ऊभर सकते हैं। यदि स्थिति को समय रहते नियंत्रण में नहीं किया गया तो इससे हानि का अंदेशा भी है। स्वास्थ्य की दृष्टि से भी समय थोड़ा सा कमजोर है। स्वयं या किसी परिजन का स्वास्थ्य चिंता का विषय हो सकता है। इसी दौरान कार्यवश कुछ यात्राएं भी करना पड़ेंगी और ये यात्राएं आपके लिए काफी सहायक सिद्ध होंगी। इस अवधि में तमाम विसंगतियों के बावजूद मित्र-शुभचिन्तकों का भरपूर सहयोग मिलता रहेगा।

परिवारः

परिवार की दृष्टि से यह वर्ष बहुत अच्छा है। परिजनों में आपसी सदभाव देखने को मिलेगा। परिवार में उत्सव सम्पन्न होने का योग भी बन रहा है। अप्रेल, नवम्बर और दिसम्बर के महीनों में परिवार में थोड़ी सी अस्त-व्यस्तता देखने को मिलेगी। इसका कारण लोगों का आपसी व्यवहार भी हो सकता है या किसी का स्वास्थ्य अचानक चिंता का विषय हो सकता है।

धन सम्पत्तिः

धन सम्पत्ति की दृष्टि से वर्ष उमदा है। आय में वृद्धि और आय का कोई अतिरिक्त स्रोत भी प्राप्त हो सकता है। लम्बे समय से पाली हुई इच्छा कि घर बड़ा होना चाहिए या पसंदीदा लोकेलिटी में होना चाहिए उसके पूर्ण होने की संभावना बलवती हो रही है। अन्यत्र इसी राशिफल में कुछ महीनों का जिक्र किया गया है जो बहुत अच्छे नहीं है उनका अवश्य ध्यान रख लें।

कार्यक्षेत्रः

कार्यक्षेत्र में आपका दबदबा बढ़ेगा। आपकी मैनेजिरियल स्किल या योजनाओं को अमल में लाने की क्षमता का लोग लोहा भी मानेंगे। बाई एंड लार्ज सीनियर्स और कलीग्स के साथ आपका व्यवहार बहुत बढ़िया रहेगा लेकिन अन्यत्र दोे-तीन महीनों का जिक्र किया उनका अवश्य ध्यान रखें। साथ ही आपको कोई नयी जिम्मेदारी या पदभार भी प्राप्त हो सकता है।

सेहतः

कुल मिलाकर सारे वर्ष ही आपका स्वास्थ्य अच्छा रहेगा। फिर भी स्वास्थ्य के बारे में हमारा मानना है कि अच्छा स्वास्थ्य अर्जित करना पड़ता है। मात्र अपने जीन्स या डी.एन.ए. पर भरोसा करके आप नहीं चल सकते। अगर स्वास्थ्य के प्रति जागरूक रहंेगे – योग, ध्यान, जिम, एक्सर्साइज या जो भी स्पोर्टस आपको पसंद हो उसमें संलग्न रहने से ना केवल स्वास्थ्य अच्छा रहता है बल्कि मन भी उत्साह से भरा रहता है।

ज्योतिषीय उपायः

आपकी राशि का स्वामी चन्द्र है जो बहुत ही संवेदनशील ग्रह है। अपनी भावनाओं के साथ जब भी नकारात्मक हो जायेंगे तभी मुश्किल होगी। मोती, पुखराज और मूंगा आप पहन सकते हैं। अगर एक 14 मुखी रूद्राक्ष धारण कर सकें तो उत्तम रहेगा।

क्या करेंः

अच्छे समय का लाभ उठाना चाहिए। जब अपनी बन पड़े या आ जाये तो वहां चूकने से बड़ा कोई हादसा नहीं होता।

क्या न करेंः

आलस्य मानव का शत्रु और इसे अपने निकट न आने दें।